October 2018 - Hindi Biography World

Breaking

Follow by Email

Monday, October 29, 2018

"तुम्हारी मौत" Tales by Kavi Agyat

October 29, 2018 1
मेरे कैंसर का आखिरी दौर चल रहा है, तुम्हारी मौत को भी 5 साल हो गए है| अब 24 घंटो में से कितने ही घंटे तो बेहोशी में गुजर जाते है, बीपी ल...
Read more »

Friday, October 26, 2018

"वह खामोश हो गया"

October 26, 2018 1
वह खामोश हो गया  कंवर के घाट पर जलती हुई लाश, मेरे सबसे अजीज दोस्त, शेखर की थी | और उसकी लाश से निकलती हवा भी उसी ओर उड़ के जा रही थी ...
Read more »

Thursday, October 25, 2018

"टाइटैनिक : एक जहाज़"

October 25, 2018 0
टाइटैनिक एक जहाज़  टाइटैनिक एक जहाज, याद है, जो था बहुत विशाल, बहुत लम्बा, बहुत चौड़ा, जिसपर सवार थे सपने, जो उफान मारता हुआ, स...
Read more »

Monday, October 22, 2018

Sunday, October 21, 2018

"मैं जी उठूंगा" Tales by Kavi Agyat

October 21, 2018 0
और फिर आँखे बंद करते ही सारे मंजर आंखो के आगे आ जाते है | यूं लगता है जैसे तुम अभी भी मेरे कंधे पर अपना सर रख के, टकटकी लगाए ताक रही हो ...
Read more »

Thursday, October 18, 2018

"सब काले हैं" By Kavi Agyat

October 18, 2018 0
सड़कों पर चलते हुए लोग तुम्हें अकेले नजर आते हैं, पर मेरे साथ न जाने क्यूँ ऐसा अब नहीं होता | मुझे हर इंसान के पीछे कुनबा नज़र आता है | ...
Read more »

Tuesday, October 16, 2018